ग्राम पंचायत रेवाड़ा टोला कवि सा के दबंग प्रधान प्रभावती देवी के प्रतिनिधि विजय यादव व दबंग ग्राम सचिव ज्वाला सिंह और ब्लॉक के बड़े अधिकारियों के सांठगांठ से ग्राम पंचायत में मनरेगा शौचालय और बनवाए गए सड़कों में काफी रुपयों का घोटाला किया गया है कवि सा के निवासी कलाम हुसैन का कहना है कि हमारे गांव में छोटे-छोटे सड़कों का काम हुआ है वह भी चलने लायक नहीं है जिसमें अवधेश के घर से राम सेवा के घर तक मात्र 50 मीटर की खड़ंजा का कार्य करके ₹250000 निकाल लिया गया है।

अगर इसका सही तरीके से जांच किया गया तो घोटाला साबित हो जाएगा और यह सड़क चलने लायक भी नहीं है इसी तरह जनार्दन के घर से प्राथमिक विद्यालय तक खड़ंजा का कार्य करवाया गया है इसमें भी ₹150000 निकाल लिया गया है जो कि काम कागजों में ही कोरम पूरा किया गया है गांव के निवासी बनारसी का कहना है कि मेरा शौचालय का पैसा प्रधान द्वारा निकालकर सिर्फ ₹6000 दिया गया और वह भी 18 महीने पहले दिया गया था कभी से मैंने बाकी बचे ₹6000 की मांग लगातार करता रहा लेकिन प्रधान द्वारा ₹6000 से मना कर दिया गया ग्राम सचिव ज्वाला सिंह से भी ₹6000 की मांग किया गया।

तो वह भी देने से मना कर दिए और धमकी दी है कि अगर ₹6000 मांगोगे तो ₹6000 जो दिया गया है वह भी रिकवरी करवा देंगे गांव के निवासी खून खून का कहना है कि मेरा नाम जॉब कार्ड में है मैं मनरेगा में काम भी करता हूं लेकिन जब से लॉकडाउन लगा हुआ है तभी से मनरेगा के तहत प्रधान द्वारा रेवाड़ा गांव में काम करवाया जा रहा है लेकिन मैं कविता गांव का निवासी होने के कारण मुझसे काम नहीं करवाया जा रहा है और गांव के किसी भी व्यक्ति से इस समय काम नहीं करवाया जा रहा है सिर्फ अपने गांव के ही लोगों से प्रधान द्वारा काम करवाया जा रहा है।

गांव के मुन्नू चौधरी कलाम हुसैन रामतेज चौधरी सरवन आदि का कहना है कि यदि ग्राम पंचायत रेवाड़ा कवि सा का ग्राम प्रधान द्वारा करवाए गए विकास कार्यों की जांच करके उचित कार्रवाई नहीं हुआ तो हम लोग मजबूर होकर जिलाधिकारी कार्यालय गोरखपुर के यहां धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी ब्लॉक के संबंधित अधिकारियों की होगी ज्ञात हो इसके पूर्व दिलीप कुमार मौर्य बहुजन समाज पार्टी पिछड़ा वर्ग पूर्व जिला अध्यक्ष गोरखपुर के द्वारा प्रधान व ग्राम सचिव के द्वारा किए गए घोटाले की जांच के लिए सैकड़ों बार तहसील दिवस मंडला आयुक्त महोदय गोरखपुर मुख्यमंत्री महोदय उत्तर प्रदेश लखनऊ मुख्य सचिव महोदय उत्तर प्रदेश लखनऊ ग्राम विकास मंत्री महोदय उत्तर प्रदेश लखनऊ राज्य सूचना आयोग उत्तर प्रदेश लखनऊ को लिखित शिकायत दिया जा चुका है परंतु जो भी आदेश आता है।

ब्लॉक के संबंधित अधिकारियों से मिलकर ग्राम सचिव ज्वाला सिंह सारा काम ब्लॉक पर ही मैनेज कर देता है ग्राम सचिव ज्वाला सिंह काफी दबंग किस्म का है इसको अपने से बड़े से बड़े अधिकारियों का आदेश का कोई भय नहीं है वह सीधे कहता है कि जो भी करना हो कर लो मेरा कुछ नहीं हो पाएगा ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायत होने के बाद नाराज होकर ग्राम प्रधान प्रतिनिधि विजय यादव द्वारा आवेदन दिए गए व्यक्ति दिलीप कुमार मौर्य को लगभग 6 माह पहले जान से मारने की धमकी भी दिया जा चुका है जिसकी लिखित शिकायत थानाध्यक्ष हरपुर बुदहट और पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश को दिया जा चुका है लगभग 2 साल पहले भी आवास की जांच के दौरान ग्राम प्रधान द्वारा मारपीट किया जा चुका है ग्राम सचिव ज्वाला सिंह के सह पर शौचालय में भी काफी घोटाला किया गया है गांव वालों का कहना है कि ग्राम प्रधान द्वारा व सचिव ज्वाला सिंह के साथ गांठ से जो भी कार्य करवाए गए हैं उन सभी कार्यों का निष्पक्ष रुप से जांच हो और दोषियों पर कार्रवाई हो यदि 1 सप्ताह के अंदर जांच नहीं हुआ तो हम लोग जिलाधिकारी महोदय गोरखपुर के यहां विशाल धरना प्रदर्शन करेंगे जिसकी पूरी जिम्मेदारी ब्लॉक के संबंधित अधिकारी की होगी।

जिला संवाददाता
योगेन्द्र नरायण मिश्रा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here