डाक टाइम्स न्यूज ब्यूरो महराजगंज।
कहते हैं कि सरकारें बदलती है तो शासन का नजरिया भी बदलता है अफसरशाही के कामकाज में भी बदलाव होता है लेकिन उत्तर प्रदेश के जनपद महराजगंज में स्थित सोहगीबरवां वन्य जीव प्रभाग में कोई बदलाव नहीं हुआ है बदस्तूर भ्रष्टाचार , अवैध कटान, शाकारमाही कागजों में यूको टूरिज्म का विकास परंतु जमीनी हकीकत में विकास के‌ नाम पर घोटाले के शिवाय कुछ भी नहीं हुआ है।

बताते चलें कि अवैध कटान के मामले में सोहगीबरवां वन्य जीव प्रभाग का मधवलीया रेंज बर्षो से अवैध कटानो के लिए बदनाम रहा है अनेको बार शासन से लेकर प्रशासन तक यहां तक कि वन मंत्री तक भी शिकायतें हुए हैं लेकिन हमेशा जांच की ढाक के तीन पात ही रहे हैं। कोई भी जांच पुर्ण नहीं हुई और कटान बदस्तूर जारी है वन विभाग के जिम्मेदार अवैध धनार्जन कर रहे हैं चाहे ‌मरचहवां वीट का तार बाड का मामला हो या सभी रेंजो में वाटर होल घोटाले का मामला हो युके टूरिजम के ‌नाभ पर हो रहे लूट का मामला हो आदि सभी में जांच घाट के तीन पात ही शावीत हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here