डाक टाइम्स ब्यूरो महराजगंज। वैसे तो सोहगीबरवां वन जीव प्रभाग में वन जीवों के संरक्षण के लिए सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के तहत भारी-भरकम बजट खर्च हो रही है यूको टूरिज्म के नाम पर करोड़ों रुपए खर्च हो रहा है लेकिन अपने कार्यशैली के लिए बदनाम डी एफ ओ पुष्प कुमार के, के कार्यकाल में सोहगीबरवां वन जीव प्रभाग *भ्रष्टाचार, सरकारी धन का गमन, शिकार माही ,वाटर होल,तारवाड़ , मनरेगा घोटाले आदि* के लिए बदनाम रहा है तो वहीं अवैध कटान बदस्तूर जारी है तो वहीं सोहगीबरवां वन जीव प्रभाग की हर नदी, नाला, तालाब को भी डी एफ ओ और संम्बिधत रेंजरों द्वारा अवैध शिकारियों के हाथों बेच कर भारी धन उगाही किया जा रहा है
अभी कुछ दिन पहले ही निचलौल रेंज में शिकार माही का मामला डाक टाइम्स न्यूज ने प्राथमिकता से प्रकाशित किया था जिसके फलस्वरूप दबाव में आए रेंजर जगरनाथ प्रसाद ने चार रेंज केस अपने कर्तव्यों का इतिश्री कर अपने गर्दन को बचाने का कार्य कर लिया तो वहीं सोहगीबरवां वन का सूदूर क्षेत्र का रेंज शिवपुर अवैध कटान और शिकार माही के मामले में सबसे आगे हैं।
सोहगीबरवां वन्य जीव प्रभाग महराजगंज के शिवपुर रेंज के तालाब, नदियों, का नजारा जो कैमरे में कैद हुए हैं वह हैरान करने वाला हैं जंगलों में बेंत के कटान बदस्तूर जारी है तो वहीं शिकारी जंगलों की मछली कछुआ आदि बाकायदा जाल, और बांध बना कर मार रहे हैं विश्वस्थ सुत्रो की मानें तो सोहगीबरवां वन जीव प्रभाग महराजगंज के *निचलौल रेंज और शिवपुर रेंज* की वेशकीमती बेंत नेपाल राष्ट्र के सकरदीनही सुस्ता और रामनगर तो वहीं कुशीनगर जिले के खड्ढा तहसील के रामपुर गोनहा, मदनपुर भेडीहारी, नौतार के नौका टोला, रामनगर तुर्कहा आदि जगहों पर वन विभाग के अधिकारियों के मिली भगत से खपत होती है। कुशीनगर जिला का खड्डा तहसील सोहगीबरवां वन जीव प्रभाग के बेतों के खपत का मुफीद जगह वना हुआ है।
शिवपुर रेंज में गढवहिया नाला, मुर्दहिया नाला,पथलहिया नाला, हरिहरपुर नाला आदि, आदि में शिकार माही हरी पुत्र गणेश निवासी मूजा टोला के द्वारा किया जा रहा है और इसी के माध्यम से वन विभाग के रेंजर मैनेज हर साल होते रहते हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here