डाक टाइम्स न्यूज समाचार ब्यूरो कुशीनगर । सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन दुर्गाशंकर मिश्र की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित हुई। सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत मुख्य सचिव उत्तर प्रदेश शासन दुर्गाशंकर मिश्र की अध्यक्षता में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग आयोजित की गई, जिससे प्रदेश के सभी मंडलायुक्त , जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक व अन्य उच्चाधिकारी जुड़े। इस क्रम में जनपद कुशीनगर के एनआईसी के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग रूम से जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम, पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल, अपर जिलाधिकारी देवी दयाल वर्मा भी उक्त बैठक से जुड़े। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग बैठक का मुख्य मुद्दा सड़क सुरक्षा सप्ताह के संदर्भ में माननीय मुख्यमंत्री की पूर्व वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के निर्देशों की प्रगति की समीक्षा करना रहा। इस क्रम में मुख्य सचिव ने उपस्थित उच्च अधिकारियों को सड़क सुरक्षा व शहरों को बेहतर करने के उपाय के संदर्भ में आवश्यक निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि जबरन पार्किंग/ वसूली/ कब्जा करके रखने वाले माफियाओं पर कार्यवाही की जाए, जबकि रेहड़ी /पटरी वालों के साथ संवाद स्थापित कर अतिक्रमित क्षेत्र को खाली करवाया जाए। पार्किंग की वैकल्पिक व्यवस्था को भी ध्यान में रखा जाए। सड़कों पर किसी भी प्रकार की धार्मिक गतिविधियां नहीं होनी चाहिए। सड़क किसी भी प्रकार के प्रदर्शन का घर नहीं होना चाहिए। स्कूल बसों का फिटनेस चेक अवश्य किया जाए। अवैध किस्म के अतिक्रमण को हटाया जाए। सामाजिक संगठनों की मदद ली जाए। वॉल पेंटिंग, हैंडबिल, पंपलेट के माध्यम से सड़क सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए। ड्राइव के दौरान मोबाइल इस्तेमाल करने वालो पर दंड की व्यवस्था की जाए। ओवर लोडिंग की समस्याओं पर भी ध्यान दिया जाए। ड्रिंक एंड ड्राइव के मामले पर एक्शन लिया जाए। शहरों की सफाई व्यवस्था के बारे में प्लास्टिक के इस्तेमाल को नियंत्रित करने के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। निराश्रित गोवंश को कान्हा गोशाला जैसे स्थलों में आश्रय दिया जाए। शहर के सुंदरीकरण, पेयजल की व्यवस्था, व्यापार मंडल के साथ नियमित बैठक तथा उनसे सकारात्मक संवाद बनाकर कार्य किया जाए आदि निर्देश दिए गए।

10 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here