डाक टाइम्स न्यूज समाचारपत्र पडरौना/कुशीनगर-जनपद कुशीनगर में शौचालय टंकी कि सफाई करने उतरे दो मजदूर कुछ समय तक बाहर नहीं निकले तो ड्राइवर भी टैंक में उतर गया। वह भी नहीं निकला। तीनों की हुई मौत। यह दर्दनाक हादसा पडरौना नगर पालिका का है। जहां पर एक मकान के शौचालय की टंकी साफ करने उतरे तीनों की जहरीली गैस से दम घुटने से मौत हो गई। फायर ब्रिगेड की मदद से तीनों शव को टंकी से बाहर निकाला गया। बताते चलें कि जनपद कुशीनगर के पडरौना नगर पालिका का दर्दनाक हादसा है।जो आवास विकास कॉलोनी निवासी ठेकेदार

दयाशंकर सिंह के शौचालय की टंकी की सफाई होनी थी। इसलिए उन्होंने सफाई कर्मी रवि 35 वर्ष, छोटेलाल 30 वर्ष को गुरुवार शाम को बुलाया था। पुलिस कप्तान जनपद कुशीनगर धवल जायसवाल ने बताया कि गुरुवार शाम 4:00 बजे छोटेलाल टैंक की सफाई के लिए नीचे उतरा लेकिन कुछ देर तक वह बाहर नहीं आया तो रवि भी टैंक में उतर गया। इसके बाद वह भी बाहर नहीं निकला तो दयाशंकर सिंह और उसके ड्राइवर संजय मद्धेशिया को चिंता सताने लगी। कुछ समय इंतजार करने के बाद जब दोनों सफाई कर्मी बाहर नहीं आए तो दोनों को देखने के लिए ड्राइवर संजय मद्धेशिया भी टंकी में नीचे उतर गया। इसके बाद संजय की भी कोई जानकारी नहीं मिली तब दयाशंकर सिंह घबरा गए आनन-फानन में उन्होंने आसपास के लोगों को बुलाया और सूचना पर पहुंची पुलिस ने फायर सर्विस व सेफ्टी टैंक खाली करने वाली शौचालय सक्सिंग मशीन मंगवाकर बचाव कार्य शुरू कराया। करीब 5:30 बजे संजय को टंकी से बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया गया तो वही 6:00 बजे के आसपास रवि और छोटेलाल को भी अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टरों ने तीनों व्यक्तियों को मृत घोषित कर दिया। मरने वालों में रवि और छोटेलाल सगे भाई थे और यह दोनों बिहार प्रदेश के रहने वाले थे। इन दोनों के अलावा तीसरा मृतक संजय मद्धेशिया थाना कसया के शिवपुर का निवासी था। घटना की सूचना पाकर जिलाधिकारी कुशीनगर एस.राजलिंगम भी पहुंच गए। उन्होंने घटनास्थल का जायजा लिया साथ ही साथ जांच के आदेश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here