डाक टाइम्स न्यूज समाचार ब्यूरो कुशीनगर । माननीय प्रदेश अध्यक्ष भाजपा/ माननीय मंत्री जल शक्ति विभाग/ सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग/ नियंत्रण परती भूमि विकास /लघु सिंचाई/ नमामि गंगे एवं ग्रामीण जल आपूर्ति विभाग उत्तर प्रदेश स्वतंत्र देव सिंह जी द्वारा जनपद के व्यस्ततम कार्यक्रमों में रवींद्र नगर धूस स्थित बुद्धा पार्क में गरीब कल्याण सम्मेलन में जनसभा को संबोधित किया गया व गरीब कल्याण हेतु संचालित विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम किया गया। इसके बाद माननीय अटल बिहारी वाजपेई जी की प्रतिमा का अनावरण व कार्यकर्ताओं को संबोधन दुधई बाजार अटल चौक कुशीनगर मैं किया गया। मा0 मंत्री जी ने देर रात्रि कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त जनपदस्तरीय अधिकारियों एवं विभागीय अधिकारियों के साथ विभागीय योजनाओं के साथ-साथ बाढ़ संबंधी योजनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न की। सर्वप्रथम बाढ़ खंड से समीक्षा बैठक की शुरुआत करते हुए माननीय मंत्री ने अधीक्षण अभियंता व अधिशासी अभियंता बाढ़ खंड महेश सिंह ने अपने प्रजेंटेशन के माध्यम से जनपद में बाढ़ कार्यों के संदर्भ में प्रगति की जानकारियां दी। इस क्रम में छितौनी तटबंध, महादेवा तटबंध, अमवा खास आदि में चल रहे प्रगति कार्यों की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी महोदय ने कहा बूढ़ी गंडक से तमकुही राज व खड्डा के करीब 08 से 10 गांव हर वर्ष बाढ़ से प्रभावित होते हैं । इस क्रम में राहत सामग्री का टेंडर हो चुका है। पिछले वर्ष 26 बाढ़ चौकियों का निर्माण हुआ था। वर्तमान में तटबंधों पर 09 परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, जो 110 किलोमीटर का क्षेत्र है। इस क्रम में अधिशासी अभियंता बाढ़ खंड ने छितौनी बांध , महादेवा तटबंध आदि पर स्पर निर्माण, परक्यूपाइन लगाने आदि की जानकारी दी। मा0 मंत्री ने 30 जून से पहले ठेकेदार से बात करके सभी लंबित कार्यों को पूरा कराने का निर्देश दिया। इस क्रम में उन्होंने कहा की ठेकेदारों का भुगतान समय से हो जाए।

जिलाधिकारी ने बाढ़ राहत के बारे में दवा वितरण का कार्य, एनडीआरएफ की टीम, नाव की व्यवस्था, बाढ़ चौकी आदि के संबंध में बाढ़ राहत हेतु अग्रिम तैयारी इत्यादि की जानकारी दी। जल जीवन मिशन के बारे में बताया गया कि 30000 लक्ष्य के सापेक्ष मात्र 900 घरों में ही कनेक्शन दिया गया है। इस क्रम में माननीय मंत्री ने भुगतान किस स्तर पर लंबित है, तथा रुकावट हेतु कारण पूछा। ड्रेनों के संदर्भ में बताया गया कि जनपद में कुल 153 ड्रेन अवस्थित है जिसमें से 17 में अधिकांश में कार्य पूर्ण हो चुका है। वन विभाग ने जनपद में 40 लाख 39 हजार 10 वृक्षारोपण का लक्ष्य तय किया है जिसमें से 80% गड्ढे बनाए जा चुके हैं।
जिलाधिकारी महोदय ने निराश्रित गोवंश को संरक्षित करने के क्रम में बताया कि कुल गोवंश आश्रय स्थल 06 है, भूसा चारा, पानी और छाया की उपलब्धता है, धनराशि भी प्राप्त है।
सामुदायिक शौचालय के तहत जिला पंचायत राज अधिकारी ने बताया कि कुल 1003 ग्राम पंचायतों में 980 सामुदायिक शौचालय पूर्ण हो चुके हैं 850 चालू है। पंचायत भवन निर्माण की स्थिति, हैंडपंप, के बारे में भी समीक्षा हुई । प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के संदर्भ में बताया गया कि कुल 954.97 करोड़ की धनराशि दी गई है। गेहूं खरीद केंद्र के बारे में यह बताया गया कि जनपद में कुल 76 गेहूं क्रय केंद्र है जिसमें लक्ष्य के सापेक्ष 18.24% प्राप्त किया गया है। टीकाकरण के संदर्भ में यह बताया गया कि फर्स्ट डोज शत प्रतिशत दे दिया गया है सेकंड डोज़ और 97.6% दे दिया गया है।15 से 17 आयु वर्ग में प्रथम डोज 99.9,% द्वितीय 93.69%, 12 से 14 वर्ष में प्रथम डोज़ 28.26 और द्वितीय डोज़ 25.93 प्रतिशत दे दिया गया है।आयुष्मान भारत लक्ष्य प्राप्ति में 23.11% लोगो का गोल्डन कार्ड बनाया जा चुका है।
प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना, कन्या सुमंगला योजना, सामूहिक विवाह योजना, वृद्धावस्था विधवा पेंशन ,स्कूल चलो अभियान, कायाकल्प योजना, अपशिष्ट प्रबंधन, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, मनरेगा पार्क का प्रेजेंटेशन भी दिया गया। अमृत सरोवर मॉडल भी दिखाया गया। मुख्य विकास अधिकारी अनुज मलिक द्वारा महिला स्वयंसेवी समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों के कुशीनारा ब्रांड के बारे में बताया गया।
इसके बाद कानून व्यवस्था के बारे में पुलिस अधीक्षक धवल जायसवाल ने बताया बताया कि कुल 18 थाने है। मा0 मुख्यमंत्री की 100 दिवसीय कार्य योजना के तहत वांछित अपराधियों में 99. 30% पकड़े जा चुके हैं। अपराधियों का चिन्हांकन व प्रॉपर्टी जप्त करने की कार्यवाही की जा रही है। लावारिस माल का निस्तारण किया जा रहा है। विगत 5 वर्षों में 4 करोड़ से अधिक की शराब नष्ट की गई है। अभ्युदय योजना के संदर्भ में दिव्यांग जनों के उपकरण वितरण के बारे में पूछा गया, आंगनवाड़ी केंद्रों का संचालन, ग्राम शौचालय का निर्माण, स्ट्रीट वेंडर्स को ऋण वितरण, प्लास्टिक मुक्त अभियान, जन शिकायतों का निस्तारण, विद्युत विभाग की समीक्षा आदि के बारे में विस्तार से चर्चा हुई।
अंत में माननीय मंत्री ने अधिकारियों से कुछ सवाल पूछे और उन्हें प्रोत्साहित भी किया। उन्होंने कहा देश और राष्ट्र को बचाने में अधिकारियों का योगदान है। उन्होंने कहा कि देश आप के कारण चल रहा है। उन्होंने जोश भरते हुए कहा नौकरी के साथ-साथ परंपराओं को भी जिंदा रखें। कार्ययोजना बनाकर उसका निरीक्षण करते रहे समय-समय पर समीक्षा भी हो। उन्होंने यह भी कहा कि लोग कहते हैं कि उत्तर प्रदेश के अधिकारी बदल चुके हैं। और बदलाव कैसे आए इसके बारे में सोचें।
अंत में जिलाधिकारी महोदय ने माननीय मंत्री का धन्यवाद ज्ञापन करते हुए कहा कि आपके मार्गदर्शन और प्रोत्साहन को क्रियान्वित करने की पूर्ण कोशिश करेंगे। उन्होंने कहा कि जनपद कुशीनगर में अधिकारियों की अच्छी टीम है। जनपद कुशीनगर में कुछ बड़े प्रोजेक्ट पर भी काम हुआ है। एयरपोर्ट, मेडिकल कॉलेज और इसे तेज गति से विकसित किया जाएगा।
इस अवसर पर माननीय राज्यमंत्री समाज कल्याण संजीव गौड़, माननीय सांसद विजय कुमार दुबे ,माननीय विधायक पडरौना मनीष जायसवाल, माननीय विधायक हाटा मोहन वर्मा, माननीय विधायक खड्डा विवेकानंद पांडे, माननीय विधायक रामकोला विनय गौड़, माननीय विधायक तमकुही राज असीम राय, व समस्त जनपद स्तरीय अधिकारी गण तथा जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति रही।

51 COMMENTS

  1. Everything is very open with a very clear clarification of the issues.
    It was definitely informative. Your website iis very helpful.Thank
    you for sharing!
    Legallne gry hazardowe web page
    casino za pieniadze

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here