डाक टाइम्स न्यूज समाचारपत्र खड्डा/कुशीनगर-जनपद कुशीनगर के कस्बा खड्डा स्थित काली मंदिर के प्रांगण में चल रहा शाकाहार-सदाचार, मद्यनिषेध,आध्यात्मिक जनजागरण यात्रा जयगुरुदेव धर्म प्रचारक संस्था मथुरा के अध्यक्ष पूज्य पंकज जी महाराज के साथ तेरहवें दिन कस्बा खड्डा स्थित काली मन्दिर के प्रांगण में पहुंची। यहाँ आयोजित सत्संग समारोह में आये हुए जनमानस को सम्बोधित करते हुए कहा कि जब परमात्मा दुनियां को रोशनी देना चाहता है, तो वह किसी सन्त-फकीर के जरिये अपना भेद प्रकट करता है। सौभाग्य से हम सबको देव दुर्लभ मनुष्य शरीर मिल गया है। समय रहते अपनी जीवात्मा के कल्याण के बारे में विचार करें। सन्त-महात्मा त्रिकालदर्शी होते हैं। यदि हम लोग उनके वचन-वाणियों को मान लेंगे, तो आने वाले खराब समय से बच जायेंगे। हमारे गुरू बाबा जयगुरुदेव जी महाराज ने आवाज लगाई है कि हे इंसानों! तुम अपने दीन-ईमान पर वापस आ जाओे। मुर्षिद से सुरत-शब्द का रास्ता लेकर इस जिस्मानी मस्जिद में बैठकर खुदा की सच्ची इबादत, रूहानी इबादत करो, जिस्मानी मन्दिर में भगवान की पूजा, प्रार्थना करें। आज दुनियां के लोग मांस-मदिरा में सुख खोजने की कोशिश कर रहें हैं। जिसके कारण दुनियां के इंसानों में रगड़े-झगड़े फैेल रहे हैं। सुख-शान्ति सन्त महात्माओं के सत्संग में मिलेगी। जहां मानव धर्म और मानव कर्म का सन्देश होता है। सन्त-महात्मा, फकीर कौम, मजहब बनाने औेर हाथों में डण्डे, तलवार, पकड़ाने के लिए नहीं आते है। वे तो लोगों में प्रेम और प्यार पैदा करने के लिए आते हैं। यह तो बहुत गलत बात है कि यदि हमारे विचारों के अनुसार कोई हमारी बात नहीं मानता है तो हम उसको डराने-धमकाने लगते है। हमको ये चाहिए कि उनको हम प्रेम से समझाते और बताते कि इस रास्ते पर चलने से हमारा फायदा हुआ है। यदि आप भी बात को मान लोगे तो आपका भी फायदा होगा।
सन्त-महात्माओं ने नाम (सुरत-शब्द) का सुमिरन करने को कहा है। ‘जयगुरुदेव’ नाम का सुमिरन करने से आपकी जीवात्मा नर्कों और चौरासी योनी में नहीं जा पायेगी। बाबा जयगुरुदेव जी महाराज ने करोड़ों लोगों को सुरत-शब्द की साधना में लगाया। उनके उत्तराधिकारी पूज्य पंकज की महाराज यह रास्ता बता रहे हैं। समस्त मानव जाति के लोगों से शाकाहार-सदाचार अपनाने, नषा त्यागने की अपील करते हुए कहा कि इसका प्रचार सभी प्रेमी एक-एक गांव को गोद लेकर करें और लोगों को अपने गुरू दरबार मथुरा से जोड़े। जब घर-घर में ‘जयगुरुदेव’ नाम का सुमिरन सब लोग करने लगेंगे तो समाज और देश में परिवर्तन हो जायेगा। सतयुग जैसा सुख मिलने लगेगा। उन्होंने जयगुरुदेव आश्रम मथुरा में आगामी दि. 11 से 15 जुलाई तक आयोजित गुरुपूर्णिमा पर्व पर आने का निमन्त्रण दिया। जिला कुशीनगर में यह सत्संग समारोह 10 जून से 16 जून तक सुबह और शाम में आयोजित किया जा रहा है। शान्ती व्यवस्था में स्थानीय पुलिस प्रशासन सहयोग मे लग रही है।
सत्संग समारोेह में जिलाध्यक्ष सवरूँ चौधरी, जिला उपाध्यक्ष सुरेश चौरसिया , जिला मंत्री रामश्री चौहान, उमेष चन्द्र गुप्ता कोशाध्यक्ष, दशरथ प्रसाद गुप्ता तहसील अध्यक्ष, रामधनी कुशवाहा ब्लाक अध्यक्ष, जोखन गुप्ता ब्लाक उपाध्यक्ष,क्षेत्रीय विधायक विवेकानन्द पाण्डेय, आलोक तिवारी, जवाहर गुप्ता, मोहनलाल मोदनवाल, विनोद लाल श्रीवास्तव के साथ संस्था के महामन्त्री बाबूराम यादव, प्रबन्धक संतराम चौधरी, संगत दिल्ली प्रदेष के अध्यक्ष विजय पाल सिंह, संगत बिहार प्रदेष के अध्यक्ष मृत्युन्जय झा, म.प्र. के महासचिव बी.बी. दोहरे, प्रबन्ध समिति के सदस्य अनूप कुमार सिंह, नानक जी, रामचन्द्र यादव, सतीष उपाध्याय, सुबाष गुप्ता आदि के साथ हजारों की संख्या में महिला एवं पुरुष इस सत्संग में उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here