डाक टाइम्स न्यूज समाचार ब्यूरो कुशीनगर । जनपद कुशीनगर के समस्त राजकीय अशासकीय सहायता प्राप्त एवं वित्तविहीन विद्यालयों के प्रधानाचार्य गणों की बैठक व जनपद स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं का सम्मान समारोह जिला पंचायत रिसोर्स केंद्र रविंद्र नगर धूस में संपन्न हुआ। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में जिलाधिकारी एस राजलिंगम व बैठक की अध्यक्षता अपर जिलाधिकारी देवी दयाल वर्मा ने की। बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी द्वारा सर्वप्रथम राज्य स्तर पर इंटरमीडिएट परीक्षा परिणाम में जनपद कुशीनगर को 10वां स्थान तथा हाई स्कूल परीक्षा परिणाम में जनपद कुशीनगर को 32 वां स्थान प्राप्त होने पर जिला विद्यालय निरीक्षक कुशीनगर एवं जनपद के सभी प्रधानाचार्य को

अपनी शुभकामनाएं दी। जिलाधिकारी कुशीनगर ने पुरस्कृत होने वाले छात्रों को बधाई दिया तथा अपना आशीर्वचन प्रदान किया। उन्होंने शासन द्वारा चलाई जा रही योजनाओं पर विस्तार से चर्चा करते हुए समस्त प्रधानाचार्य को निर्देशित किया कि वे इन योजनाओं के बारे में छात्र-छात्राओं एवं जन सामान्य को अवगत करा दें, जिससे समाज के अंतिम व्यक्ति तक जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंच सके। इस अवसर पर अपर जिलाअधिकारी देवी दयाल वर्मा द्वारा शासन से संचालित छात्र-छात्राओं से संबंधित कार्यक्रमों और नीतियों पर प्रकाश डालते हुए कार्यक्रम में पुरस्कृत छात्र

छात्राओं को शुभकामना भी दिया गया। विदित हो कि राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में जनपद स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र छात्राओं को जिलाधिकारी महोदय द्वारा विशेष रूप से आमंत्रित किया गया था। राजकीय माध्यमिक विद्यालयों में जनपद स्तर पर उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले छात्र छात्राओं को जिलाधिकारी द्वारा स्मृति चिन्ह एवं प्रमाण पत्र भी प्रदान कर पुरस्कृत किया गया। उक्त बैठक में जिला समाज कल्याण अधिकारी विपिन पांडे द्वारा समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजनाएं पर प्रकाश डाला गया. कन्या सुमंगला योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना, निशुल्क कोचिंग योजना छात्रवृत्ति संबंधित विभिन्न योजनाएं,मिशन शक्ति पर प्रकाश डाला गया। जिला विद्यालय निरीक्षक मनमोहन शर्मा द्वारा समस्त अतिथियों का स्वागत करते हुए माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं पर प्रकाश डाला गया । इंस्पायर अवार्ड, प्रोजेक्ट अलंकार, राष्ट्रीय आय व योग्यता आधारित छात्रवृत्ति योजना, वित्तविहीन संस्था में दो सगी बहनों एक साथ पढ़ने पर एक बालिका के शुल्क की प्रतिपूर्ति राज्य सरकार द्वारा किए जाने संबंधी योजना आदि।

48 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here