डाक टाइम्स न्यूज समाचारपत्र ब्यूरो महराजगंज । जनपद महराजगंज में आरक्षण के खेल में बेमेल निर्वाचन पर जांच का डंडा चला है और लेट लतीफी ही सही फर्जी निर्वाचित हुए जन प्रतिनिधियों की प्रधानी खत्म करने के लिए नोटिस जिलाधिकारी महराजगंज सत्येन्द्र कुमार ने जारी कर अनुसूचित जनजाति का फर्जी प्रमाण पत्र लगाकर ग्राम प्रधान बने प्रधानों को एक सप्ताह में मय साक्ष्य स्पष्टीकरण देने का मौका मुहैया कराया है नियत समय के भीतर स्पष्टीकरण नहीं उपलब्ध कराने पर यह मान लिया जायेगा कि उक्त तीनों प्रधानों को कुछ नहीं कहना है और प्रधानों को पद से पदच्युत कर दिया जाएगा।
बताते चलें कि दिग्भ्रमित प्रशासनिक तंत्र और आरक्षण की लालच/ लाभ के वशीभूत होकर जनपद महराजगंज में कुछ जालसाजी कर गोंड़ जाती के लोगो को गौंड जनजाति के लिए बनने वाली अनुसूचित जनजाति का प्रमाण पत्र जारी कर/ करा दिया गया था जबकि जनपद महराजगंज में इस आरक्षण प्राप्त जन जाति के लोग निवास ही नहीं करते हैं ।

इस फर्जी बाड़े से जनपद महराजगंज में मात्र तीन ग्राम पंचायत ही नहीं प्रभावित हुए हैं बल्कि जनपद महराजगंज के सभी ग्राम सभाओं का आरक्षण प्रभावित हुआ है और जनपद के सभी निर्वाचित प्रधान के निर्वाचन पर इसका प्रभाव पड़ना है और 2021 में लागू हुई आरक्षण प्रणाली सवालों के घेरे में आ गया है।


52 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here