डाक टाइम्स न्यूज समाचार पत्र ब्यूरो कुशीनगर। मुख्यमंत्री द्वारा 80 हज़ार राशन कोटे के उचित दर विक्रेताओं के जीवन में व्यापक परिवर्तन हेतु बधाई दी गई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में उचित दर विक्रेताओं को सीएससी के रूप में सक्षम बनाए जाने हेतु राज्य सरकार एवं सीएससी ई गवर्नेंस सर्विसेज इंडिया लिमिटेड के मध्य एम ओ यू तथा उचित दर विक्रेताओं के लाभांश में वृद्धि कार्यक्रम का आयोजन योगी बाबा गंभीर नाथ प्रेक्षागृह एवं सांस्कृतिक केंद्र गोरखपुर में किया गया।
कार्यक्रम का सजीव प्रसारण कलेक्ट्रेट सभागार जनपद कुशीनगर में किया गया। मुख्यमंत्री द्वारा 80 हज़ार राशन कोटे के उचित दर विक्रेताओं के जीवन में व्यापक परिवर्तन हेतु बधाई दी गई। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सर्वाधिक आबादी का प्रदेश है जहां 15 करोड़ लोग उचित दर दुकान के विक्रेताओं से खाद्यान्न प्राप्त करते हैं, बावजूद इसके कोटेदारों को हेय दृष्टि से देखा जाता था। तकनीक की सहायता(ई पॉज मशीन) से लोगों की सोच में परिवर्तन आया। उन्होंने कोटेदारों को संबोधित करते हुए बताया कि अन्न को ब्रह्म कहा जाता है, और अन्न दान को सबसे बड़ा दान माना जाता है। इस प्रकार पैसा सरकार देती है, सुविधा सरकार देती है, किंतु आप कोटेदारों के माध्यमों से अन्न गरीबों तक पहुंचता है। उन्होंने कहा कि सीएससी की सुविधा कोटेदारों को प्राप्त हो रही है। दुकान के माध्यम से अब जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, दुकान पर ही पैसा जमा करना, बिजली बिल जमा करने की सुविधा इत्यादि उपलब्ध करवाई जा रही है। इससे आय भी बढ़ेगी। उन्होंने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना कार्यक्रम की चर्चा करते हुए कहा इसके माध्यम से 80 करोड़ लोगों को 05 किलोग्राम प्रतिमाह मुफ्त राशन प्राप्त हुआ था जो कि दुनिया के अंदर खाद्य वितरण का सबसे बड़ा कार्यक्रम था।

मा0 मुख्यमंत्री द्वारा उचित दर विक्रेताओं के लाभांश को 70 से 90 किये जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए आग्रह किया कि हर उस जरूरतमंद तक खाद्यान्न पहुंचे जो उसका हकदार हो।

इस अवसर पर जनपद कुशीनगर कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम में माननीय विधायक हाटा मोहन वर्मा ने कहा कि उचित दर विक्रेताओं के लाभांश में वृद्धि सावन के पहले दिन का उपहार है । उन्होंने कहा कोरोनावायरस में जब सर्वत्र तालाबंदी थी उस वक्त कोटेदारों की दुकानों का ताला खुला रहता था। सत्ता में आने में भी कोटेदारों की महत्वपूर्ण भूमिका की उन्होंने सराहना की। ई पॉज मशीन के बारे में उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से पारदर्शिता लाई जाएगी और दुकानों पर भी आपके द्वारा पारदर्शिता दिखाई जाए।

इस अवसर पर मा0 विधायक फाजिलनगर सुरेंद्र सिंह कुशवाहा ने कहा की कोटेदारों की जिम्मेदारी तब बढ़ जाती है जब गांव में बहुत सारे कार्य आप के माध्यम से हो। उन्होंने कहा कि गरीब और अभावग्रस्त को राशन देकर आप पुण्य का कार्य करते हैं। तकनीक के माध्यम से जोड़कर पात्र व्यक्तियों को राशन दिलवाने के लिए सरकार के प्रयास में सहयोग के लिए उन्होंने कोटेदारों को बधाइयां दी। कोरोना काल में खाद्यान्न उपलब्ध करवाने में उन्होंने कोटेदारों की सेवा के लिए उन्हें भगवान के रूप में वर्णित किया और कहा कि इनकी जितनी भी तारीफ की जाए कम है।

इस अवसर पर चेयरमैन कॉपरेटिव लल्लन मिश्र ने कहा की यह एक सौभाग्यशाली दिन है। उन्होनें कहा कि देश के हर विभाग में परिवर्तन हो चुका था लेकिन लगता नहीं था कि राशन की दुकानों में भ्रष्टाचार खत्म होगा। किंतु केंद्र सरकार व प्रदेश सरकार की व्यवस्था के माध्यम से यह भ्रष्टाचार कम हुआ।

इस अवसर पर अपर जिला अधिकारी देवीदयाल वर्मा, जिला पूर्ति अधिकारी दिलीप कुमार, डिप्टी आरएमओ विनय प्रताप सिंह, अन्य अधिकारीगण, कर्मचारी व कोटेदार मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here