आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में उज्जवल भारत उज्जवल भविष्य कार्यक्रम के तहत बिजली महोत्सव का आयोजन बुद्ध स्नातकोत्तर महाविद्यालय कुशीनगर में हुआ। उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में माननीय जिला पंचायत अध्यक्ष सावित्री जायसवाल व अन्य गणमान्यों में माननीय विधायक कुशीनगर पी एन पाठक, माननीय विधायक फाजिलनगर सुरेंद्र सिंह कुशवाहा तथा जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम की उपस्थिति रही। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन कर हुई। उपस्थित गणमान्य को शॉल, बुके और तुलसी का पौधा भेंट कर सम्मानित किया गया।


इस अवसर पर माननीय जिला पंचायत अध्यक्ष सावित्री जायसवाल ने भगवान बुद्ध की धरती को प्रणाम करते हुए विद्युत विभाग एवं उपस्थित गणमान्य को धन्यवाद दिया तथा आजादी के अमृत महोत्सव पर आयोजित इस कार्यक्रम में सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के बारे में जागरूक करने हेतु विद्युत विभाग व उपस्थित गणमान्यों को धन्यवाद अर्पित किया। इस अवसर पर माननीय विधायक कुशीनगर पी एन पाठक ने कहा कि सरकार द्वारा विद्युत से संदर्भित चलाई जा रही योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ लिया जाना चाहिए, और विद्युत विभाग की विभिन्न योजनाओं का प्रसार जन जन तक होना चाहिए।

इस अवसर पर माननीय विधायक फाजिलनगर सुरेंद्र सिंह कुशवाहा ने नवीकरणीय एवं और अनवीकरणीय ऊर्जा के स्रोतों को परिभाषित करते हुए कहा कि नवीकरणीय ऊर्जा के स्रोत जो कुछ दिनों में ही समाप्त हो जाएंगे उसके विकल्प तैयार करें जिससे भविष्य में ऊर्जा की कमी का सामना नहीं करना पड़े। उन्होंने कहा की ऊर्जा के स्रोत के रूप में सौर ऊर्जा को विकसित करने की जरूरत है इसे एक विकल्प के रूप में तैयार कर लें तो आने वाली पीढ़ी को ऊर्जा संकट का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस क्रम में उन्होंने पवन ऊर्जा व जल ऊर्जा के बारे में भी बताया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी एस0 राजलिंगम ने कहा कि विद्युत के बिना कोई विकास कार्य संभव नहीं है। विद्युत जीवन के लिए बहुत आवश्यक है। उन्होंने बताया कि औद्योगिकरण बढ़ने के साथ-साथ घरों में विद्युत की आपूर्ति बढ़ती गई एवं अन्य विविध कार्यों तथा सिंचाई आदि में भी विद्युत का प्रयोग होने लगा। उन्होंने कहा कि आज हम मांग से ज्यादा उत्पादन करने की स्थिति तक पहुंच चुके हैं। जिलाधिकारी ने कहा कि कोई भी संसाधन में निवेश जरूरी होता है, बिना निवेश के उत्पादन संभव नहीं है। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि समय से विद्युत उपभोग के बिल को अदा किया जाना चाहिए। यदि समय से विद्युत बिल अदा नहीं किया जाएगा तो कहीं न कहीं इसका प्रभाव उत्पादन और मेंटेनेंस पर पड़ेगा।

उक्त अवसर पर विभिन्न लघु फिल्मो के प्रदर्शन के माध्यम से तथा विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों द्वारा सरकार की विद्युत योजनाओं का प्रचार प्रसार किया गया। इस क्रम में नुक्कड़ नाटक, भोजपुरी गायन आदि से सरकार की योजनाओं का प्रचार प्रसार किया गया। इस दौरान कुछ लाभार्थियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए गए ।
कार्यक्रम के अंत में अधीक्षण अभियंता आरके गुप्ता द्वारा उपस्थित गणमान्य का धन्यवाद ज्ञापन किया गया तथा कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ।

पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में अधीक्षण अभियंता राकेश कुमार गुप्ता, पावर ग्रिड के मुख्य प्रबंधक व कार्यक्रम के नोडल अधिकारी पंकज कुमार राय,अधिशासी अभियंता विद्युत कसया राघवेंद्र सिंह, अधिशासी अभियंता पडरौना जय शंकर राय, अधिशासी अभियंता सेवरही वीरेंद्र कुमार सिंह, अधिशासी अभियंता हाटा बी एल आनंद, अधिशासी अभियंता प्रवीण कुमार चौबे, पावर ग्रिड के मुख्य प्रबंधक कुमार क्षमेंद्र, सहायक प्रबंधक अमन मलिक एवं जिले के अधिकारी गण मौजूद रहे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here