डाक टाइम्स न्यूज समाचारपत्र ब्यूरो महराजगंज ।
सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे बिजली विभाग के पुर्व संविदा कर्मी आनंद मिश्र की रुपए लेने का विडियो तेजी से वायरल हो रहा है वायरल विडियो पर चर्चाओं का बाजार गर्म है जितनी मूंह उतनी बातें हो रही है। डाक टाइम्स समाचार पत्र की टीम जब उक्त वायरल विडियो के सच का पड़ताल करने के लिए कड़ी से कड़ी को जोड़ने का प्रयास किया तो वायरल विडियो एक साजिश के तहत बिजली

विभाग और विजिलेंस टीम पर दबाव बनाने के लिए बड़ी चतुराई से बनाया गया विडियो साबित हुआ जिसे अवैध तरीके से विगत तमाम वर्षों से बिजली चोरी कर रहे विडियो के सुत्र धार विडियो में धनराशि देते हुए दिखाई दे रहा वह शख्स है जिसने एक पत्रकार के मिली भगत से विडियो बनवा कर वायरल कर दिया और विडियो बन जाने के वाद उक्त धन को वापस आनंद मिश्रा से लेलिया गया है। पड़ताल के क्रम में जब डाक टाइम्स समाचार पत्र की टीम आनंद मिश्र से मिल कर बात किया तो पूर्व संविदा कर्मी आनंद मिश्र ने कहा कि उक्त विडियो में लिया गया धन‌ राशि पुर्व बकाय विल का धनराशि है जो जमा न होने के कारण वापस कर दिया गया है और मेरे उपर लगाएं जा रहें सभी आरोप निराधार है।

विदित हो कि पुर्व संविदा कर्मी आनंद मिश्र जनमानस और विद्युत विभाग में जनहित में सेतु का कार्य कर जनता के हित में कार्य करतें रहे हैं उनका कार्य जनहित में हमेशा से स्वच्छ व साफ सूथरा रहा है।

4 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here