डाक टाइम्स न्यूज समाचारपत्र कुशीनगर-आज और कल के आधुनिक युग में बच्चे काफी जागरूक हो गए है। वे घर में हो रही बुरी घटनाओं पर प्रतिक्रिया देने लगे है। ताजा मामला जनपद के कसया थाना क्षेत्र का है। युवाओं में बढ़ते नशे की लत ने समाज को छिन्न-भिन्न कर रहा है तो वहीं परिवार में कलह का केन्द्र बना हुआ है। नशे में बड़े- बुजुर्ग की बात कौन करे बच्चे भी काफी प्रभावित हो रहे है। ऐसा ही एक मामला जनपद के कसया थाना परिसर में देखने को मिला। जहाँ एक मासूम अपने पिता के शराब की लत व पारिवारिक कलह से परेशान होकर निजात पाने के लिए थानाध्यक्ष से गुहार लगाई। मासूम की गुहार सुन थानाध्यक्ष दंग रह गए और भावुक थानाध्यक्ष ने मासूम के पढ़ाई में आने वाला खर्च

देने की बात कहते हुए मासूम के लिए पढ़ाई से जुड़ी सामग्री खरीद कर घर तक छोडवाया।काविले तारीफ होगा कि आज दिनांक 24/01/2023 दिन मंगलवार की दोपहर लगभग 2:00 बजे थाना कसया के परिसर पहुँचे 08 वर्षीय मासूम थानाध्यक्ष डॉ. आशुतोष कुमार तिवारी के सामने अपने पिता पर आरोपों की झड़ी लगा दी। मासूम ने थानाध्यक्ष से कहा कि थानेदार- अंकल ! पापा रोज शराब पीकर आते है आप शराब की दुकान बंद कर दीजिए। तब पापा शराब पीना बंद कर देंगे। इनके नशे की आदत के चलते पूरे परिवार सहित हमारे पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है। मासूम यही तक नही रुका उसने आगे कहा कि यह केवल मेरी दिक्कत नही है मेरे जैसे लाखों बच्चों की दिक्कत है। इसलिए मैं परेशान होकर आप के पास शिकायत करने के लिए आया हूँ। मासूम की बात सुन थानाध्यक्ष भाउक हो गए उन्होंनें तत्काल मासूम के पिता को थाने पर बुलाया और समझाते हुए शराब नहीं पीने की शपथ दिलवाया।थानाध्यक्ष डॉ. आशुतोष कुमार तिवारी ने

मासूम की सारी बातों को ध्यान से सुना और मासूम की बातों से भाउक हो थानाध्यक्ष ने उसकी पढ़ाई में आने वाली सभी खर्च को देने की बात कही। थाना पहुँचे पिता से मासूम को गोद लेने की बात कहते हुए कहां कि प्रतिभावान बच्चों के प्रति समाज के जागरूक लोगों का दायित्व है कि उन्हें आगे जाने में सहायक बने । गोद लिए मासूम को थानाध्यक्ष ने पढ़ाई-लिखाई से जुड़े सामग्री को खरीदा, थानाध्यक्ष डॉ आशुतोष कुमार तिवारी ने बालक के साथ बातचीत कर उनके अन्दर सकारात्मक भाव विकसित करते हुए उनका उत्साह वर्धन किया। पुलिस के इस सराहनीय व नेक दिल कार्य की चारों तरफ सराहना व प्रसंसा हो रही है।

                       विज्ञापन                         

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here