आज दिनाँक 04 जनवरी 2021 को जनपद कुशीनगर के कप्तानगंज तहसील अंतर्गत ग्रामसभा लालाछपरा टोला भटवालिया में वेटरनस एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष, किसान मोर्चा व जिलाध्यक्ष भाकियू (अम्बावता), कुशीनगर रामचन्द्र सिंह किसानों से मुलाकात किये और दिल्ली में हो रहे आन्दोलन में जो किसान शहीद हुए है उनको दो मिनट मौन रहकर श्रद्धाजंली अर्पित किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष, किसान मोर्चा श्री सिंह ने देश में हो रहे किसान आन्दोलन के विषय में किसानों को अवगत कराया और केंद्र सरकार से माँग किया कि जो किसान दिल्ली आन्दोलन में शहीद हुए है उनके परिवार को सरकार एक एक करोड़ रूपये का मुवावजा दे और किसान विरोधी तीनों अध्यादेशों को तत्काल वापस ले यदि ऐसा नही होता है तो जनपद कुशीनगर का किसान दिल्ली में हो रहे किसान आन्दोलन में भाग लेने को मजबूर हो सकता है। आगे श्री सिंह ने किसानो को बताया कि राज्य की योगी सरकार किसान विरोधी सरकार है यह सिर्फ चुनाव के समय ही किसानों को याद करती है यदि ऐसा नही होता तो हमारे नेतृत्व में लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मिल को चलवाने या यहाँ पर नया चीनी मिल लगवाने के लिये 2017 से लगातार माँग किया जा रहा है लेकिन अभी तक योगी सरकार द्वारा बन्द चीनी मिल लक्ष्मीगंज को चलवाने के लिये घोषणा नही किया गया। जनपद में किसानों का गन्ना अत्याधिक बरसात होने और बरसाती नाले की साफ सफाई ठीक से नही होने के वजह से खेतों में ही सुख गया और किसानों का धान हल्दिया रोग लग जाने के वजह से बर्बाद हो गया जिसके मुवावजा के लिये लगातार हमारे द्वारा माँग किया गया मगर सूबे की योगी सरकार अपने कान में तेल डालकर सो गयी है। अन्त में राष्ट्रीय अध्यक्ष, किसान मोर्चा श्री सिंह ने प्रदेश सरकार को भी स्पष्ट शब्दों में चेताया है कि लक्ष्मीगंज बन्द चीनी मिल को चलवाने या यहाँ पर नया चीनी मिल लगवाने, गन्ने का भुगतान सभी मिल मालिकों द्वारा 14 दिन में कराने, कप्तानगंज चीनी मिल किसानों के गन्ने का भुगतान पेराई सत्र 2019-20 को कराने में आनाकानी करती है तो हमारा संगठन जनपद में एक बृहद किसान आन्दोलन करने के लिये वाध्य होगा जिसकी पूरी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी | इस मौके पर चेतई प्रसाद, हरि जी, भोरिक यादव, चाँदबली, फूलपती देवी, धर्मा देवी, बुधिया देवी,शिवराजी देवी,बादामी देवी,ढोंढा, कमला गौण, वाजिद अली, बालेश्वर,छेदी, शिवचरण यादव,कौलेश्वर राजभर,बालेश्वर, रामेश्वर वर्मा आदि किसान मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here