कप्तानगंज. कुशीनगर जनपद के कप्तानगंज थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत नान्हू मुंडेरा तहसील हाटा जनपद कुशीनगर निवासी बद्री पुत्र रामबली की अपनी जमीन पर दबंगो का अवैध कब्जा हो गया है और इसके लिये पीड़ित ने स्थानीय थाना से लेकर तहसील और जिला प्रशासन से भी मदद की गुहार लगाई लेकिन पूरा मामला कागजो में सिमटकर रह गया यहाँ तक की जिस जमीन के लिए बद्री और राजित अधिकारियों के चक्कर लगा रहे है वह कागज में उन्ही के नाम से दर्ज है और इस पर 35 वर्ष से मुकदमा चल रहा है साथ ही न्यायालय का स्टे आदेश भी है।
बतादे की इस जमीन को लेकर 1985 से ही न्यायलय सिविल जज कसया के वहा मुकदमा दर्ज है और इसमे स्टे आदेश भी यथा स्थिति कायम रखने का है लेकिन उसके वावजूद भी इसका पालन नहीं हो रहा है। बद्री ,राजित,सत्यनारायण और बैरागी का कहना है कि कई बार इस मामले को लेकर वह कप्तानगंज पुलिस के पास गये लेकिन उसके वावजूद भी कोई कार्यवाही नही हुई ततपश्चात वह उपजिलाधिकारी हाटा से दिनांक 02 /12/2020 और 04/01/2021 को न्याय की गुहार लगाई तो एसडीएम ने एसएचओ कप्तानगंज को न्यायालय के आदेश का अनुपालन कराने का निर्देश दिया लेकिन कोई कार्यवाही नही हुई और उधर दबंग जबरजस्ती निर्माण कार्य करते रहे । इसके बाद पीड़ित ने पुलिस अधीक्षक से 24 /12/2020 एवं 04 /01/2021 को मामले में कार्यवाही करने के लिए प्रार्थना पत्र दिया लेकिन वहां से भी कुछ नही हुआ तो जिलाधिकारी के पास पहुँचकर अपनी बात रखी जिस पर जिलाधिकारी ने हल्का लेखपाल राधा रानी को पैमाइस करने का आदेश दिया तब तक दबंग दीवाल चला चुके थे।
इस मामले में जब दूसरे पक्ष के विनोद यादव से बात की गई तो उन्होंने बताया कि हम अपने जमीन में जो दो डिसमिल है उसी में निर्माण कार्य कराये है। वही चाकी इंचार्ज मथौली धर्मदेव चौधरी से पूछे जाने पर बताया कि अवैध निर्माण की सूचना मिलते ही दोषी पर कार्यवाही करते हुए 151 में चालान किया गया है और वहां से जेल भेज दिया गया है। लेखपाल राधारानी ने बताया कि जिलाधिकारी कुशीनगर द्वारा मुझे पैमाइस के लिये निर्देशित किया गया है जल्द ही जमीन की पैमाइस कर दिया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here