अंकित कुशवाहा ब्यूरो प्रमुख कुशीनगर-


अभी तक जो प्रशिक्षण प्राप्त नही किये है उन्हें कल हर हाल में कराया जाय प्रशिक्षण-जिलाधिकारी

आज कलेक्ट्रेट सभागार में दिनांक 11 जनवरी को होने वाले ड्राई रन के मद्देनजर जिलाधिकारी एस राज लिंगम की अध्यक्षता में टास्क फोर्स बैठक का आयोजन किया गया।
जिलाधिकारी ने बैठक मेअनुपस्थित रहने वाले डीपीएम सिद्धनाथ तिवारी, आनन्द त्रिपाठी, रितेश तिवारी का एक दिन का वेतन काटने सहित स्पष्टीकरण लिए जाने का निर्देश सीएमओ को दिए, साथ ही निर्देशिय किया कि यदि कार्यों में सुधार देखने की नहि मिला तो विभागीय कार्यवाही हेतु संस्तुति की जाएगी।
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि समस्त विकास खण्डों में बीडीओ/सीडीपीओ/एमवाईसी की उपस्थिति में कल दोपहर 12 बजे प्रशिक्षण कार्य कराना सम्बन्धित गण सुनिश्चित करें। कोविड-19 वैक्सीन (टीकाकरण) हेतु सुरक्षा व्यवस्था हेतु 43 कांस्टेबल व 43 होमगार्ड की डियूटी लगाई गई है, जो पूरे अभियान में सहयोग करेंगे। उन्होंने बताया कि 21 स्थलों पर 43 सत्र स्थलों का ड्राई रन किया जाएगा, इसके लिए 645 लाभार्थियों का चयन भी कर लिया गया है। तथा सभी पॉइंट पर सीसिटीवी कैमरे का बंदोबस्त भी कर लिया गया है।

बैठक मेंद्वारा वर्कशाप में आए समस्त सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों, पुलिस प्रशासन, चिकित्सा विभाग व आंगनबाड़ी की टीमो को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने बताया कि अंतिम ड्राई रन 61 केंद्रों पर किया जाएगा। जिसके लिए शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों को कुल 61 सेक्टरों में बांटा गया है। सभी सेक्टर/जोनल मजिस्ट्रेटों की ड्यूटी लगा दी गई है तथा वैक्सीन को सकुशल केंद्रों पर पहुचाने के लिए रूट चार्ट बना लिया गया है।

जिलाधिकारी ने बताया कि फर्स्ट ड्राई रन से हमे बहुत कुछ सीखने को मिला है। उसके बाद दूसरा ड्राई रन 5 जनवरी को किया गया। जिसकी बहुत प्रशंसा हुई। अब लेकिन इस ड्राई रन का मुख्य फेस आ गया है। जिसमे कुल 61 केंद्रों पर 170 वैक्सिनेशन पॉइंट बनाए गए है। जोकि अंतिम ड्राई रन होगा। उन्होंने बताया कि इस अंतिम ड्राई रन में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को भी शामिल किया गया है। जिलाधिकारी ने बताया कि हम सब को एकजुट होकर एक टीम की तरह कार्य करना है। यह एक टीम वर्क है। वर्कशाप में जिलाधिकारी द्वारा आए हए समस्त टीमो को निम्नवत दिशा निर्देश दिए गए :-
जिलाधिकारी द्वारा समस्त टीमो को निर्देश दिए गए कि समस्त टीमें अपने अपने केंद्रों का भृमण करले और सभी व्यवस्थाओं को सुनिश्चित करले। यदि किसी भी चीज़ की कमी है तो तत्काल उसको पूरा कर लें।
उक्त अवसर पर मुख्य विकास अधिकारीअन्नपूर्णा गर्ग, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 नरेंद्र गुप्त, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 ताहिर अली, जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा0 संजय गुप्त, सहित सभी एमवाईसी व अन्य सभी सम्बन्धित अधिकारी गण उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here