गोखपुर। राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर राष्ट्रीय महिला आयोग की गाइडलाइन के अनुपालन में राज्य महिला आयोग द्वारा जनपद में महिलाओं के लाभार्थ दो दिवसीय विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। जो 23 एवं 24 जनवरी को सी0आर0सी0 कक्ष सीतापुर नेत्र चिकित्सालय सिविल लाइंस में कराया जा रहा है । इस विधिक जागरूकता शिविर का उद्देश्य महिलाओं से संबंधित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं , महिलाओं के हित में बनाए गए कानूनों एवं प्रावधानों, महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधित सेवाओं तथा महिलाओं की सुरक्षा हेतु पुलिस विभाग द्वारा प्रदान की जा रही सेवाओं आदि की जानकारी आम जनमानस तक पहुंचाना है । इस दो दिवसीय शिविर को विभिन्न सत्रों में बांटा गया है जिसके माध्यम से अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यरत महिलाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा ताकि वे महिलाओं से संबंधित इन सभी जानकारियों को अपने विभाग तथा अन्य महिलाओं तक प्रसारित कर सकें। शिविर के सत्रों में नामित महिला न्यायिक अधिकारी द्वारा महिलाओं से संबंधित प्रावधानों की जानकारी दी जाएगी । वहीं महिला चिकित्सालय द्वारा नामित महिला चिकित्सक महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्रदान करेंगी । जनपद में महिलाओं की सुरक्षा एवं आर्थिक सशक्तिकरण के लिए उपलब्ध संसाधनों की जानकारी भी प्रदान की जाएगी । साथ ही महिला सुरक्षा हेतु पुलिस विभाग द्वारा किए जा रहे प्रयासों के विषय में महिला पुलिस अधिकारी विस्तार से बताया। प्रदेश के विभिन्न विभागों द्वारा महिलाओं के लाभार्थ चलाई जा रहे योजनाओं की जानकारी संबंधित जनपदीय विभागीय अधिकारियों द्वारा दी गई तथा योजना में आवेदन की प्रक्रिया की जानकारी भी दी जाएगी दोनों दिवस के सत्रों के उपरांत प्रतिभागियों के मध्य जागरूकता शिविर में दी गई जानकारी पर आधारित प्रश्नोत्तरी का आयोजन भी किया । इस शिविर में मिशन शक्ति के अंतर्गत महिलाओं एवं बच्चों के मानसिक स्वास्थ्य हेतु परामर्श सेवा प्रदान करने वाले परामर्शदाताओं को भी शामिल करते हुए उन्हें प्रशिक्षित करने के साथ साथ उन्हें प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया । इस मौके पर राष्ट्रीय महिला आयोग की उपाध्यक्ष श्रीमती अंजू चौधरी सीडीओ सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here