अंकित कुशवाहा ब्यूरो प्रमुख कुशीनगर-

मा0मुख्यमंत्री उ0प्र0 योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार प्रदेश में बाढ़ की विभीषिका से जनसामान्य की जान व माल की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्व है, जिसके लिए धरातल पर प्रयास किए गए हैं। उन्होंने कहा कि बाढ़ से समुचित सुरक्षा के लिए आज उनके द्वारा जिन 146 परियोजनाओं का लोकार्पण और 170 परियोजनाओं का शिलान्यास किया गया है, प्रदेश में बाढ़ की विभीषिका को समाप्त करने में सहायक सिद्व होंगी। उन्होंने कहा कि 1800 करोड़ से अधिक लागत से तैयार होने वाली उक्त सभी परियोजनाओं को 15 मई,21 से पूर्व समयबद्व रूप से तैयार करने के निर्देश दिए गए हैं, ताकि बरसात से पूर्व समस्त प्रदेश बाढ़ के संकट से सुरक्षित रहे और आमजन के धन-जन की हानि न हो पाए।
मा0 मुख्यमंत्री उ0प्र0 आज दोपहर 12ः00 बजे प्रदेश को बाढ़ से सुरक्षित रखने के उद्देश्य से वर्चुअल रूप से 146 परियोजनाओं का लोकार्पण और 170 परियोजनाओं का शिलान्यास करने के बाद अपने विचार व्यक्त कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि इससे पूर्व बरसात के मौसम में बाढ़ सुरक्षा के लिए कार्य योजनाएं बनाई जाती थीं और आननफानन उनका क्रियान्वयन किया जाता है, जिसके कारण जन सामान्य को उसका लाभ नहीं मिल पाता था। उन्होंने कहा कि उक्त स्थिति को मद्देनजर रखते हुए शासन द्वारा माह जनवरी में ही बाढ़ से सुरक्षा के लिए परियोजनाओं का संचालन किया गया, जिसमें 146 का लोकार्पण आज उनके द्वारा किया गया, जबकि 170 परियोजनाएं जिनका आज शिलान्यास किया गया है, उन्हें समयबद्वता और पूर्ण गुणवत्ता के साथ 15 मई तक पूरा करने के निर्देश संबंधित विभागीय अधिकारियों को दिए गए हैं। उन्होंने निर्देश दिए कि कार्य की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने और समयबद्वता के साथ कार्य पूरा करने के लिए जिलाधिकारी एवं जन प्रतिनिधियों द्वारा समय समय पर सत्यापन किया जाना सुनिश्चित किया जाए और कार्य पूर्ण होने के बाद जन प्रतिनिधियों द्वारा परियोजना का उद्घाटन कराएं।
मा0 मुख्यमंत्री द्वारा सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग, उ0प्र0 के तत्वाधान में बाढ़ सुरक्षित परियोजनाओं के लोकार्पण एंव शिलान्यास किया गया,
कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी में मुख्य विकास अधिकारी अन्नपूर्णा गर्ग द्वारा जनपद के गंडक नदी के तटवर्ती इलाको में किये गए कार्यों का विवरण देते हुए बताया कि अमवाखास, नरवाजोत तट बन्ध व एपी तट बन्ध पर रिवेटमेंट, परक्यूपाइन लगाने, शार्ट स्पर, सहित अन्य कार्यों की जानकारी दी गई। मा0मुख्यमंत्री ने बाढ़ आने के कारणों की जानकारी लेते हुए अधीक्षण अभियंता को बाढ़ वचाव हेतु स्थाई समाधान हेतु कार्ययोजना तैयार कर शासन को उपलब्ध कराने का निर्देश दिए। मा0 मुख्यमंत्री ने अमवाखास तट बन्ध के निकट ग्रामवासी द्वारा वार्ता कर कराये गए कार्यों की उपयोगिता व कार्यों की गुणवत्ता की जानकारी ली गई।
इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता के0के0 राय, अधि0 अभि0 सिंचाई महेंद्र कुमार सहित अन्य अधिकारी व ग्रामवासी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here