गोरखपुर/नौकरी ज्वाइन करने गोरखपुर सीएमओ कार्यालय पहुंचे एक युवक पर एडिशनल सीएमओ ने जालसाजी का केस दर्ज कराया है। बताया जा रहा है कि उसका नियुक्ति पत्र फर्जी था। एडिशनल सीएमओ की तहरीर पर कोतवाली थाने में कूटरचित दस्‍तावेज तैयार कर जालसाजी करने का केस दर्ज किया गया है। युवक फर्रुखाबाद जिले का रहने वाला है। केस दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है।
एडिशनल सीएमओ डा. एएन प्रसाद ने कोतवाली थाना पुलिस को दिए तहरीर में लिखा है कि फर्रुखाबाद जिले के याकुतगंज का रहने वाला सुधीर कुमार एक फरवरी 2021 को डार्क रूम असिस्टेन्ट के पद पर ज्‍वाइन करने सीएमओ कार्यालय पहुंचा था। मृतक आश्रित कोटे से नियुक्ति होने की जानकारी देते हुए बताया कि उसके पिता मदन लाल मैनपुरी के सामुदायिक स्‍वास्‍थ्‍य केंद्र कुरावली में स्वास्थ्य कार्यकर्ता थे। डीजी हेल्‍थ कार्यालय ने आश्रित कोटे से उसकी नियुक्ति की है।
नियुक्ति आदेश के साथ ही उसने अपनी शैक्षिक योग्यता से संबंधित प्रमाण पत्र, शपथ पत्र और मदन लाल का मृत्‍यु प्रमाण पत्र और आधार कार्ड की प्रस्‍तुत किया। आदेश का सत्यापन करने के लिए आठ फरवरी की शाम को डीजी हेल्‍थ कार्यालय को ईमेल किया गया तो पता चला कि आश्रित कोटे से नियुक्ति का कोई आदेश यहां से जारी नहीं किया गया है। सुधीर कुमार द्वारा प्रस्‍तुत किया गया आदेश कूटरचित पाया गया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक जयदीप वर्मा ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। आरोपित की तलाश चल रही है। साक्ष्‍य के आधार पर कार्रवाई होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here