रंगो के त्योहार होली का महापर्व पूरे भारतवर्ष में हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है सनातन संस्कृत की एक अमिट छाप रंगो के त्यौहार होली में दिखाई देता है 1857 समर के महानायक अमर शहीद बाबू बंधू सिंह के वंशज, तेजी से जन जन मे लोकप्रिय हो रहे 326 विधानसभा चौरी चौरा के भाजपा नेता अजय कुमार सिंह टप्पू भैया जी के प्रतिनिधि के रूप में बाबू बंधू सिंह के वंशज भाजपा युवा नेता प्रशांत सिंह और शिखर सिंह की अगुवाई में मजीठिया स्टेडियम सरदार नगर में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ होली मिलन समारोह आयोजित किया गया इस कार्यक्रम में क्षेत्र से आए हुए सभी कार्यकर्ताओ तथा क्षेत्र के सम्मानित जनता के बीच अबीर और गुलाल लगाकर के एक दूसरे के गले मिलते हुए आपसी सौहार्द बनाए रखने की अपील की गई चौरी चौरा की दवतरी से आए हुए सभी कार्यकर्ताओं तथा क्षेत्र की जनता को बंधु सिंह के वंशज तथा युवा नेता प्रशांत सिंह और शिखर सिंह ने अबीर और गुलाल लगाकर के सभी क्षेत्रवासियों से आशीर्वाद मांगे नए युग के युवा नेताओं के इस अनूठी पहल से क्षेत्र के जनमानस के बीच में एक खुशी की लहर उठी सभी कार्यकर्ता बंधुओं ने कहा कि जिस तरह से बाबू बंधू सिंह ने भारत मां को आजाद कराने के लिए अपने प्राणों की आहुति दे दी आज उन्हीं के वंशज सनातन धर्म की पुरानी परंपरा को नए रूप में प्रस्तुत किए रंग रंगीला कार्यक्रम के अंतर्गत बाबू पवन सिंह और उनकी टीम के लोग फगुआ के गीत तथा कीर्तन गाकर के सभी कार्यकर्ताओं को मंत्रमुग्ध कर दिए फगुआ के गीतों पर कार्यकर्ता अपने आप को रोक नहीं पाए और ढोलक तथा हारमोनियम की आवाज पर थिरकने लगे बड़े बड़े ही शालीनता तरीके से होली मिलन कार्यक्रम मनाया गया इस कार्यक्रम में उपस्थित कार्यकर्ता तथा गणमान्य व्यक्ति पंडित राजकुमार व्यास, डॉ अशोक सिंह , आकाश सिंह,प्रकाश चंद्र नन्हे, धनंजय सिंह कौशिक, श्री बल्लभ दुबे, बेचू बौद्ध, रणविजय सिंह सैंथवार, संपूर्णानंद पांडे, सुरेंद्र सिंह बड़े बाबू, डॉ जय सिंह, सुभाष सिंह, राकेश वर्मा, संजय मौर्य, अवध किशोर मिश्रा, नीरज पांडे, पवन सिंह, राजू सिंह, विजेंद्र सिंह, श्री दयाल पासवान, विदेशी भारती, विजय दुबे, कैलाश राजभर, सचिन भारती, दीपक मौर्य, सुनील सिंह, पलटू विश्वकर्मा,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here