जनपद के सभी अस्पतालों का हाल बहुत ही दयनीय है। अस्पतालों में बेड की इतनी कमी है कि एक बेड पर दो-दो मरीज हैं। वहीं कुछ मरीजों को ज़मीन को ही बिस्तर समझकर गुज़ारा करना पड़ रहा है। अस्पतालों में न बिस्तर है न ऑक्सीजन है न दवाइयां हैं ये जगजाहिर है कि कोरोना से निपटने में ‘भाजपा सरकार’ पूरी तरह से फ़ेल रही है । उक्त बातें पत्र जारी करते हुए कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने कही
साथ ही राजकुमार सिंह ने मांग किया कि जनपद में तेजी से बढते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कम से कम 100 बेड के कोविड अस्पताल का जनपद में तत्काल इंतजाम किया जाए। नीजी अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीज के इलाज का खर्च इतना महंगा है कि मध्यवर्ग, गरीब इंसान बर्बाद हो जा रहा है। नीजी अस्पतालों में भर्ती मध्यवर्ग और गरीब परिवार से कोरोना संक्रमित मरीज के इलाज का पूरा खर्च केन्द्र/प्रदेश सरकार वहन करे। देश कोरोना के भयानक संकट से जूझ रहा है लेकिन भाजपा सरकार आम जन को लूटने में लगी है पांच राज्यों के चुनाव खत्म होते ही, पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा कर लूट चालू हो गई सरकार को लूट की बजाय यह सोचना चाहिए कि संक्रमण अब तेजी से गांवों में अपने पैर पसार रहा है।ऐसे में सरकार का प्रयास घालमेल कर आंकड़े कम करने के बजाय टेस्ट,इलाज व वैक्सीनेशन के जरिए केसों को नियंत्रित करने पर होना चाहिए यही समय की मांग है और यही समय है जब भाजपा सरकार दिखावे की राजनीति से उठकर जनहित के लिये कुछ काम करे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here