गोरखपुर/ब्लैक फंगस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। यह बीमारी लोगों की आंखों से रोशनी छीन रही है। शनिवार को समाजवादी पार्टी की महिला पार्षद के पति ब्लैक फंगस का शिकार बने हैं। उन्हें इलाज के लिए लखनऊ के केजीएमयू में भर्ती कराया गया है। इसके अलावा एक अन्य मरीज को भी लखनऊ के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
ब्लैक फंगस के कारण बीमार हुए 5 मरीजों का लखनऊ के निजी अस्पतालों में पहले से ही इलाज चल रहा है। जबकि 4 अन्य का दिल्ली के अस्पताल में चल रहा है। इसके साथ ही जिले में अब संक्रमितों की संख्या 12 हो गई है। शुक्रवार को शहर के समाजवादी पार्टी के पार्षद के पति व प्रतिनिधि की दाहिनी आंख ब्लैक फंगस से खराब हो गई। उन्हें किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय लखनऊ में भर्ती कराया गया है। डाक्टरों की सलाह पर घर में इलाज करा रहे 50 वर्षीय व्यक्ति की भी एक आंख ब्लैक फंगस की वजह से खराब हो गई है। अब संक्रमण दिमाग की ओर तेजी से बढ़ रहा है। डॉक्टरों ने हायर सेंटर जाने को कह दिया है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान नई दिल्ली में बेड उपलब्ध न होने के बाद स्वजन उन्हें लखनऊ स्थित एक नर्सिंग होम ले गए हैं। हालत गंभीर बताई जा रही है।
पार्षद के पति कोरोना संक्रमित थे और उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट पर भी रखना पड़ा था। वह तेजी से स्वस्थ हो रहे थे कि अचानक आंख में दर्द के साथ सूजन आने लगी। शहर के एक डॉक्टर से सलाह ली तो उन्होंने ब्लैक फंगस बताकर लखनऊ जाने को कहा। सदर सांसद रवि किशन शुक्ल की पहल पर उनके प्रतिनिधि पवन दुबे ने पार्षद के पति को लखनऊ में भर्ती कराया है। देर रात पार्षद के पति ने बताया कि उनकी दाहिनी आंख से कुछ दिख नहीं रहा है। उन्हें इमरजेंसी में भर्ती किया गया है। इधर, जिस 50 वर्षीय व्यक्ति को पिछले महीने कोरोना का संक्रमण हुआ था उनके नाक से काला पानी आने लगा था और जबड़ों में तेज दर्द शुरू हो गया था। आक्सीजन सपोर्ट पर उनका काफी समय तक इलाज चला था। अभी घर वाले डाक्टरों से सलाह लेते कि आंख लाल हो गई और आंख के आसपास तेज दर्द के साथ सूजन होना शुरू हो गया।
स्वजन ने पहले आंख के डाक्टर से बात की तो उन्होंने फोन पर दवा बताई। फायदा न होने पर नाक, कान व गला रोग विशेषज्ञ से परामर्श को कहा। परीक्षण के बाद डाक्टर ने ब्लैक फंगस की पुष्टि कर दवाएं शुरू कर दी। इलाज में इस्तेमाल होने वाला एंफोटेरिसिन बी इंजेक्शन की पहली डोज किसी तरह व्यवस्था कर लगाई गई लेकिन दूसरी डोज नहीं मिल सकी। इधर, हालात लगातार बिगड़ती रही। संक्रमण के कारण एक आंख खराब हो गई है। डाक्टरों ने जल्द आपरेशन न होने पर जीवन पर खतरा बताया है।

10 COMMENTS

  1. Excellent beat ! I would like to apprentice at the same time as
    you amend your web site, how could i subscribe
    for a weblog site? The account aided me a appropriate deal.
    I were a little bit acquainted of this your broadcast offered vivid clear idea

  2. Hey! I know this is kind of off topic but I was wondering which blog platform are you using for this website? I’m getting sick and tired of WordPress because I’ve had issues with hackers and I’m looking at alternatives for another platform. I would be great if you could point me in the direction of a good platform.|

  3. Hey! Someone in my Myspace group shared this website with us so I came to check it out. I’m definitely loving the information. I’m bookmarking and will be tweeting this to my followers! Terrific blog and terrific style and design.|

  4. Attractive portion of content. I just stumbled upon your weblog and in accession capital to say that I acquire in fact loved account your weblog posts. Anyway I will be subscribing for your augment and even I fulfillment you access persistently quickly.|

  5. Undeniably believe that which you stated. Your favorite justification appeared to be on the net the easiest thing to be aware of. I say to you, I definitely get irked while people think about worries that they just don’t know about. You managed to hit the nail upon the top and defined out the whole thing without having side-effects , people could take a signal. Will likely be back to get more. Thanks|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here