एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिग थाने को सशक्त बनाने की आवश्यकता-एडीजी, थाने के बाल कल्याण अधिकारों के पास सीयूजी होना चाहिए, बाल कल्याण अधिकारियों का स्थानान्तरण जल्दी – जल्दी न किया जाए

गोरखपुर। बच्चों के उत्पीड़न तस्करी एवं अन्य सभी प्रकार के बाल अपराधों से बच्चों की सुरक्षा एवं आवश्यक कार्यवाही पर चर्चा हेतु अपर पुलिस महानिदेशक गोरखपुर जोन अखिल कुमार ने आनलाइन गोष्ठी का आयोजन किया जिसमे जोन के सभी जनपदों से नोडल अपर पुलिस अधीक्षक जनपदीय एएचटीयू प्रभारी जनपदीय बाल कल्याण अधिकारी प्रोबेशन अधिकारी सीडब्ल्यूसी तथा प्रमुख सामाजिक संगठनों के व्यक्तियों द्वारा प्रतिभाग किया गया । बैठक में वक्ताओं में मुख्य रुप से डा ओंकार तिवारी गोरखपुर डा मुमताज गोरखपुर राजेश मणि मानव सेवा संस्थान गोरखपुर विनोद तिवारी अध्यक्ष सीडब्ल्यूसी महराजगंज संजय अवस्थी सदस्य सीडब्ल्यूसी बहराइच करुणेन्द्र अध्यक्ष सीडब्ल्यूसी सर्वजीत सिंह डीपीओ गोरखपुर श्री आशीष मित्र चाइल्ड लाइन गोण्डा तथा वी डी मिश्र एसपीओ गोरखपुर सम्मिलित रहो बैठक के दौरान प्रतिभागियों द्वारा मुख्य रुप से एन्टी ह्यूमन ट्रैफिकिग थाने को और सशक्त बनाने की आवश्यकता प्लेसमेन्ट एजेन्सी पर नजर रखने की आवश्यकता क्योंकि टूरिस्ट वीजा पर माइग्रेन्ट्स को भेज दिया जाता है वर्किंग वीजा पर कार्य हेतु जाना चाहिए . सभी थाने के बाल कल्याण अधिकारों के पास सीयूजी ) होना चाहिए , बाल कल्याण अधिकारियों का स्थानान्तरण जल्दी – जल्दी न किया जाए और यदि किया जाए तो उसी पद पर किया जाए कानून एजेन्सी के साथ – साथ पंचायत स्तर के लोगों के साथ समन्वय बनाने की आवश्यकता , सभी एजेन्सियों को आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करना चाहिए सम्बन्धित कानूनों का अच्छे से सम्पादन तथा जागरुकता और संवेदना की आवश्यकता का होना आदि पर सुझाव दिया गया । अपर पुलिस महानिदेशक गोरखपुर जोन द्वारा बैठक में दिये गये सुझावों का स्वागत करते हुए उन पर शीघ्र विचार करने का आश्वासन दिया गया।

40 COMMENTS

  1. Hey there! I love your article, keep sharing it. You’re really professional at what you’re doing. Also check out my blog, I’m sharing some good stuff. dil

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here